मई 16, 2011

हरियाणा में पोलेटेकनिक प्राध्यापकों और विद्यार्थियों पर लाठीचार्ज , गिरफ्तारियां .....

छात्रों पर भी डंडा
एआईएसऍफ़ द्वारा समर्थन में छात्र आन्दोलन , हजारों छात्रों द्वारा परीक्षायों का बहिष्कार .........
हरियाणा १६ मई |पॉलीटेक्निक अंतिम वर्ष की परीक्षा शुरू होने से पहले हंगामा हो गया।पॉलीटेक्निक की दस अलग-अलग ट्रेड में अंतिम वर्ष के परीक्षार्थियों का पेपर था |कई जिलों में छात्र परीक्षा नहीं दे सके।  वेतन बढ़ाने की मांग के लिए धरने पर बैठे शिक्षकों को उठाने के लिए पुलिस ने सिरसा में लाठियां बरसाईं और कई शिक्षकों को हिरासत में ले लिया। अम्बाला में 81 शिक्षकों को हिरासत में लेकर 39 पर केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। उधर, सोनीपत में  व सिरसा में भी शिक्षकों को गिरफ्तार किया गया। शाम को इन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया।शिक्षकों के हंगामे का असर परीक्षा पर भी पड़ा। व्यवस्था इतनी गड़बड़ा गई कि पेपर समय पर नहीं हुए और हजारों विद्यार्थी परीक्षा देने से वंचित रह गए |शिक्षकों के समर्थन में ,  परीक्षा दोबारा करवाने की मांग को लेकर सिरसा  में एआईएसऍफ द्वारा रोड जाम कर सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन किया गया | यहाँ कई विद्यार्थिओं को भी गिरफ्तार कर लिया गया , पर संगठन के दबाव में जल्द ही रह कर दिया गया | यहाँ महिला और ब्वाएज़ दोनों कालजों में परीक्षायों का बहिष्कार किया गया |अम्बाला के राजकीय कालेज में छात्रों ने तोडफ़ोड़ की। आदमपुर व सिरसा में छात्र-छात्राओं ने परीक्षाओं का बहिष्कार कर दिया। राजकीय कालेजों के सैकड़ों छात्र परीक्षा नहीं दे पाए। झज्जर में पेपर ही नहीं हुआ |राजकीय बहुतकनीकी संस्थान झज्जर में सुबह के सत्र का पेपर ही नहीं हो सका वहीं शाम के सत्र में अव्यवस्था दिखाई दी | सोनीपत में शिक्षा केंद्र पर शिक्षकों ने ताला जड़ दिया जिस कारण छात्र पेपर देने से वंचित रह गए |छात्रों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा और उन्हें वहां से खदेड़ दिया। एआईएसऍफ की राज्य परिषद ने छात्रों और शिक्षको पर लाठीचार्ज और गिरफ्तारी की कड़े तेवर अपनाते हुए कहा है की परीक्षायों के समय तक सरकार द्वारा शिक्षक आन्दोलन को हल न कर पाने से हजारों छात्रों का भविष्य अन्धकारमय हो गया है , जिसकी जिम्मेदार प्रदेश सरकार है  |  सरकार और प्रशाशन की तानाशाही को विद्यार्थी बर्दाशत नहीं करेंगे | प्रदेश में आज हजारों विद्यार्थियों की परीक्षा प्रभावित हुई है , सरकार दोबारा परीक्षा को आयोजित करे तथा शिक्षकों से बातचीत द्वारा तुरंत प्रभाव से आन्दोलन का समाधान करे | एआईएसऍफ ने कहा है की अगर सरकार ने परीक्षा को दोबारा आयोजित करने से इनकार कर दिया तो प्रदेश भर के विद्यार्थी सड़कों पर उतरेंगे | वहीं तकनीकी शिक्षा विभाग ने पुन: पेपर की किसी संभावना से इनकार किया है। 
सिरसा में प्राध्यापक को गिरफ्तार करती पुलिस




1 टिप्पणी:

Pradeep Tewari ने कहा…

Nice. Keep it us. Please mail such news items with photos for publication in our journal "Party Jeevan" by e-mailing to partyjeevan.gmail.com.
Please e-mail your postal address.
- Pradeep Tewari